International Yog Diwas 2020

International-Yog-Diwas
International-Yog-Diwas

International Yog Diwas संपूर्ण विश्व में मनाया जाता है, और इसे विश्व योग दिवस भी कहते हैं| क्या आप जानते हैं कि योग की शुरुआत कहां से हुई? कब हुई? इसके पीछे क्या इतिहास है? 21 जून को ही क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय योग दिवस?

योग तन और मन से जुड़े तमाम तरह के रोग और विकारों को दूर कर मनुष्य का जीवन आसान कर देता है, यह मानव की हर तरह की शुद्धि का आसान उपकरण है, योग विज्ञान में जीवन शैली का पूर्ण सार  समाहित किया गया है, ऐसा कहना गलत नहीं होगा, कि योग एक प्राचीन, शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक अभ्यास है, जो लोगों को शांति, आत्मविश्वास और साहस देता है, जिसके माध्यम से वो बेहतर तरीके से गतिविधियाँ कर सकते हैं | 

दुनिया भर में योग विभिन्न रूपों में प्रचलित है | 

International Yog Diwas कब मनाया जाता है? 

लोगों के स्वास्थ्य पर योग के महत्व और प्रभाव के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है, पहली बार इसे  21 जून 2015 को मनाया गया था | 

Narendra-Modi
Shree Narendra Modi

योग शब्द संस्कृत से लिया गया है जिसका अर्थ है, शामिल होना या एकजुट होना | इसकी पहल भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने 27 सितंबर 2014 को United Nations General Assembly मैं अपने भाषण से की थी, और इसी वजह से  21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस घोषित किया गया | United Nations मैं 193 सदस्य  द्वारा 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मनाने के प्रस्ताव को 11 दिसंबर 2014 को मंजूरी मिली थी, United Nations General Assembly मैं श्री नरेन्द्र मोदी ने काह –

“योग भारत की प्राचीन परंपरा का एक अमूल्य उपहार है यह दिमाग और शरीर की एकता का प्रतीक है, मनुष्य और प्रकृति के बीच सामंजस्य है, विचार, संयम और पूर्ति प्रदान करने वाला है तथा स्वास्थ्य और भलाई के लिए एक समग्र दृष्टिकोण को भी प्रदान करने वाला है। यह व्यायाम के बारे में नहीं है, लेकिन अपने भीतर एकता की भावना, दुनिया और प्रकृति की खोज के विषय में है। हमारी बदलती जीवन- शैली में यह चेतना बनकर, हमें जलवायु परिवर्तन से निपटने में मदद कर सकता है। तो आयें एक अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को गोद लेने की दिशा में काम करते हैं।”             —नरेंद्र मोदी, संयुक्त राष्ट्र महासभा

United Nations General Assembly के अध्यक्ष ने 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मानाने की घोषणा की और 170 से अधिक देशों ने इस प्रस्ताव का समर्थन किया, जिससे यह सामने आया की लोग भी जानते हैं, कि योग के कई लाभ हैं, जिनमें से कुछ दृश्य और कुछ अदृश्य होते हैं |

भारत  मैं योग का आरंभ पूर्व वैदिक काल से ही माना जाता है, हजारों सालो से भारतीयों की जीवनशैली का हिस्सा बना हुआ है, योग भारतीय संस्कृति और सभ्यता का अहम् हिस्सा है, जिसमे मानवता के दोनों भौतिक तत्वों और आध्यात्मिक उत्थानो के गुण है, यह  ज्ञान,कर्म और भक्ति का आदर्श मिश्रण है | भारत में महर्षि पतंजलि का योगदान महत्वपूर्ण है, उन्होंने ही योग सूत्रों में योगमुद्राओं या प्रथाओं को संहिता बद्ध और व्यवस्थित किया है | 

1893 मैं अमेरिका के शिकागो में विश्व धर्मं संसद को स्वामी विवेकानंद ने संबोधित किया था, जिसमें उन्होंने उस समय के आधुनिक युग में पश्चिमी दुनिया का योग से परिचय करवाया था, उसके बाद कई पूर्व गुरुओं और योगियों ने दुनिया भर में योग का प्रचार किया और बड़े पैमाने पर लोगों ने इसको स्वीकार करना शुरू किया | यहां तक कि योग को एक विषय के रूप में भी अध्ययन किया जाने लगा और यह सामने आया कि योग  के बहुत दीर्घकालिक  फायदे होते हैं | 

पिछले 50 सालों में यह  एक अंतरराष्ट्रीय घटना ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया के हजारों, लाखों लोगों ने इसको अपने दिनचर्या का हिस्सा बनाया है और काफी लाभ उठाएं हैं |

आखिर 21 जून को ही क्यों चुना गया है | 

21 जून सत्गुरुओं को श्रधांजलि देने के लिए चुना गया है, इस दिन ग्रीष्म संक्रांति होती है, जब सूर्य धरती की दृष्टि से उत्तर से दक्षिण की और चलाना शुरू करता है, यानि सूर्य जो अब तक उत्तरी गोलार्ध में था अब दक्षिणी गोलार्थ की तरफ बढ़ना शुरू हो जाता है, योग के नजरिए से यह समय संक्रमण काल होता है, यानी रूपांतरण के लिए बेहतर समय होता है, इसीलिए 21 जून International Yog Diwas के रूप में चुना गया है |

संक्रांति या उत्तरायण के समय आदि योगी ने दक्षिण की तरफ प्रस्थान किया और सबसे पहले उनकी नजर सप्त ऋषियों पर पड़ी, जो कि आगे जाकर इनके पहले शिष्य बने, जिन्होंने दुनिया के कई हिस्सों में योग के विज्ञान का प्रचार प्रसार किया |

यह अद्भुत बात है कि 21 जून मानव के इतिहास में एक महत्वपूर्ण घटना को चिन्हित करता है, उत्तरी गोलार्ध मैं यह  तारीख पूरे वर्ष  का सबसे लंबा दिन भी है, और दुनिया के कई हिस्सों में इसका विशेष महत्व भी है | 

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाने का उद्देश्य 

  • लोगों को योग के फायदे के बारे में जागरूक करना और उनको प्रकृति से जोड़ना |
  • पूरे विश्व भर में स्वास्थ्य चुनोतिपूर्ण बिमारियों की दर को घटना |
  • पुरे विश्व मैं वृधि, विकास और शांति फैलाना |
  • लोगों को शारीरिक और मानसिक बीमारियों के प्रति जागरूक बना और योग के माध्यम से इसका समाधान उपलब्ध कराना |

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2019 की थीम – Climate Action 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2018 की थीम – शांति के लिए योग 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2017 की थीम थी – स्वास्थ्य के लिए योग 

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2016 की थीम थी – युवाओं को जोड़ें 

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2015 की थीम थी – सामंजस्य और शांति के लिए योग

International-Yoga-Diwas

योग के क्या-क्या फायदे हो सकते हैं |

योग से शरीर और मन दोनों ही स्वस्थ होते हैं, अगर नियमित योगाभ्यास किया जाए तो सभी स्वास्थ्य चुनौतियों को पार लगाया जा सकता है, योग से मानसिक ही नहीं बल्कि शांतिपूर्वक वातावरण भी होता है, हमारी बदलती जीवन शैली के लिए भी योग करना अनिवार्य है |

यह हमें जलवायु परिवर्तन से निपटने में मदद कर सकता है, ऊर्जा और शक्ति का विकास होता है और सिस्टम को स्वस्थ रखने में मदद करता है इसमें कोई संदेह नहीं है कि दुनिया भर में स्वास्थ्य चुनौतीपूर्ण बीमारियों को योग मदद करता है, यह लोगों को एक दूसरे के साथ जोड़ता है |

ध्यान का अभ्यास करने और तनाव में राहत पाने में मदद करता है और स्वास्थ्य विकास की सुरक्षा के बीच संबंध प्रदान करता है, इसीलिए हमें नियमित रूप से योग का अभ्यास करना चाहिए और इसे अपने जीवन का हिस्सा बनाना चाहिए |

11 thoughts on “International Yog Diwas 2020

  • December 19, 2020 at 10:51 pm
    Permalink

    There is visibly a bundle to realize about this. I believe you made various nice points in features also. Perrine Cly Rosamond

    Reply
  • December 20, 2020 at 1:55 am
    Permalink

    By interspersing photographs, diagrams and other graphics into your blog, you are actually perfecting the overall image of the page. Tina Eward Helmer

    Reply
  • December 20, 2020 at 3:42 am
    Permalink

    The typeface on this website looks really bad using the new Microsoft Edge. Pansie Obie Siegel

    Reply
  • December 20, 2020 at 5:09 am
    Permalink

    I liked up to you will receive carried out proper here. Damara Even Means

    Reply
  • December 20, 2020 at 8:56 am
    Permalink

    I regard something genuinely special in this web site. Kelcy Rainer Luz

    Reply
  • December 20, 2020 at 10:32 am
    Permalink

    There is significantly a package to learn about this. I assume you made sure great factors in features additionally. Thomasine Ethelred Bar

    Reply
  • December 23, 2020 at 11:57 am
    Permalink

    Way cool! Some extremely valid points! I appreciate you writing this write-up and the rest of the website is also really good. Olwen Morgan Potts

    Reply
  • December 23, 2020 at 1:49 pm
    Permalink

    Hello Dear, are you truly visiting this website daily, if so afterward you will absolutely get pleasant experience. Reeba Marwin Gaspard

    Reply
  • December 23, 2020 at 3:34 pm
    Permalink

    Keep up the excellent piece of work, I read few posts on this site and I think that your blog is real interesting and has sets of excellent info . Nichole Jimmie Keefer

    Reply
  • December 23, 2020 at 5:08 pm
    Permalink

    Marvelous, what a webpage it is! This blog gives useful data to us, keep it up. Lisetta Stanford Duke

    Reply
  • December 24, 2020 at 9:14 am
    Permalink

    Hi to all, how is all, I think every one is getting more from this web site, and your views are pleasant in favor of new visitors. Kathryne Hersch Ponce

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *