गरीबो की वो आदत, जो अमीर लोग कभी नहीं करते

गरीबो की वो आदत, जो अमीर लोग कभी नहीं करते !

गरीबो की वो आदत, जो अमीर लोग कभी नहीं करते !

किसी भी इन्सान को गरीब उसकी गरीबी नहीं बनाती हैं, या उसके पास पैसे नहीं है, पहनने को अच्छे कपड़े नहीं हैं, ये सब गरीबो की वो आदत, वो मानसिकता बनाती है | बल्कि इंसान की सोच उसे अमीर या गरीब बनने का मौका देती है | गरीबी और अमीरी मानसिकता पर निर्भर करती है, मैने ऐसे भी अमीर देखे है, जो अपना खाना किसी को देते भी नहीं, बल्कि अकेले ही छुप छुपकर खाने की सोचते हैं, कि कहीं किसी और को खिलाना ना पड़ जाए और वही मैने रास्ते पर बैठा एक इंसान भी देखा है, जो सुबह की सूखी रोटी को भी अपने आस पास घूम रहे कुत्तों से बाँट कर खा रहा था |

तो आप दोनों में किसी अमीर कहोंगे और किसे गरीब, वो कहते है ना, की नियत से ही बरकत होती है, मगर कई लोग नियत के इतने  बुरे होते हैं, कि उनकी बरकत कभी नहीं हो पाती, हमेशा अपने दिल बड़ा रखो, दिल के करीब रहोगे तो सबकुछ होते हुए भी किसी चीज़ में आपको खुशी नहीं मिलेंगे |

गरीबो की वो आदत, जो अमीर लोग कभी नहीं करते !

आज मै आपको बताने वाला हूँ, वो बातें जो जिंदगी में कभी आपको अमीर बनाने ही नहीं देती, अमीरों की सोच कभी आप में शामिल हो ही नहीं पाती, तो अगर खुद में शामिल करना चाहते हो यह बातें, कभी जिंदगी में हार का मुँह नहीं देखना चाहते, और चाहते हो कि कर्म कभी आपको नुकसान न पहुँचाए |

पहले तो कभी किसी को भी उसकी हैसियत और वर्तमान स्थिती को लेकर कुछ मत बोलो, इस दुनिया में जीतने भी लोग है सब अपनी कहानी में राजा है, आप कुछ नहीं जानते उन पर क्या बीत रही है, और वो किस तरीके से इन सबसे Deal करके आगे बढ़ते हैं, अगर आप लोगों को उनके कपड़ों से, उनकी महीने की इनकम से आकलन करने की कोशीश करते हो, की वो आपसे कितना पीछे है, तो जिंदगी में कभी आपकी सोच महान बन ही नहीं सकती |

हमे जब कोई ऐसा इंसान मिलता है, जो हमें ये बताए कि तुम कुछ कमाते नहीं हो, कैसे जिंदगी में बने रहोगे या कभी मार्केट से गुजरते वक्त कुछ चीज़ पसंद आए और उसे खरीदने के लिए हमारे पास पैसे ना हो, तो हमें खुद से ही कितना ज्यादा कमजोर फील होता है, ऐसे ही हर इंसान की कोई कोई इच्छा अधूरी है | तो कृपया किसी का आकलन मत करो और ना ही किसी को करने दो, अगर कोई आप में यह चीजे देखता है, आपको बार बार जताता है, कि तुमसे ज्यादा मेरे पास चीज़े है, मैने जिंदगी में ये किया, तो उस इन्सान से अलग ही रहो |

इसके बाद छोटी सोच के इंसानों में सबसे कॉमन बात यह होती है, कि वो हर चीज़ को बढ़ा चढ़ाकर दिखाते है, मतलब उन्होंने कोई चीज़ खरीदी तो इसको इस तरह से जताते है, जैसे वो चीज़, कोई दूसरा खरीद ही नहीं सकता | हमारे आसपास ऐसे कई लोग होते है जो हर एक बात पर, यह जिक्र करते रहते हैं, कि लास्ट टाइम को कहा घूमकर आए, लास्ट टाइम की जगह पर खाना खाया या उनके फ्रेंड कितने हाई क्लास है, या उनको कितने महंगे गिफ्ट मिलते हैं |

गरीबो की वो आदत, जो अमीर लोग कभी नहीं करते !

ये लोग जिंदगी में कभी कुछ कर ही नहीं सकते, जो लोग अपनी हर चीज़ को दस लोगों के सामने गिना दें, ऐसे लोगो की क्या कीमत, कीमत तो उसकी है, जो महंगे खर्च करता भी है, और किसी को जताता  भी नहीं |

महंगे कपड़े तो पैसों से खरीद लोगे, मगर महँगी सोच सिर्फ किस्मत से मिलती है,

इसके बाद है ओवर रिएक्ट करना – हर इंसान लाइफ में सक्सेस तब होता है, जब हर एक बात के तथ्य को जानने की कोशीश करता है, बिना सोंचे समझे अपनी राय नहीं रखता, जैसे कई लोग किसी इन्सान के कार्य को तो नोटिस कर लेते है, की उसने ऐसा किया, मगर उसने ऐसा क्यों किया, ये जानने की कोशीश नहीं करते |

तो अगर आप के आसपास कुछ चीजें बिगड़ती है, तो नाक पर गुस्सा रखकर हर चीज़ को ओवर रिएक्ट करके और ज्यादा मत बिगाड़ा करो, बल्कि सही कारण जानकर कर अपने अन्दर एक गहरी सांस लेकर, ये देखा करो की वाकई बात क्या हो सकती है, ये बात आपके चरित्र को और ज्यादा सुन्दर बनाएगी |

अमीरों की सोच अपनाते वक्त दिमाग से बिल्कुल निकाल दिया करो की लोग क्या सोचेंगे, लोगों को अजीब लगेगा, वगैरह-वगैरह | लोगो के परवाह करोगे तो अपने परवाह जिंदगी में कभी नहीं कर पाओगे | जैसे किसी को पढ़ने का शौक है और उसकी उम्र ज्यादा हो गयी, तो पढ़ाई को ज्वॉइन करता ही नहीं | अपने सपनों पर काम करना होता है, लोगों को बताने में हिचकिचाहट होती है, फिर कोई इंसान वो काम करता ही नहीं है |

गरीबो की वो आदत, जो अमीर लोग कभी नहीं करते !

आपको बिना किसी की परवाह, बिना किसी से पूछे, अपनी चीजें अपना काम करना चाहिए, लोग सिर्फ वही बताते हैं, जितना उनका तजुर्बा होता है, जबकि लाइफ में सफल होने के लिए किसी की अनुमति  की जरुरत नहीं चाहिए होती, सिर्फ खुद के बनाएँ नियम पर काम करना होता है |

और आखिरी बात जो लाइफ में किसी को कुछ करना ही नहीं देती, सोच बड़ी होने नहीं देती और वक्त का  सही उपयोग करने नहीं देती, वह है टीवी और सोशल मीडिया पर अपना पूरा दिन ख़राब करना, आधे से ज्यादा दुनिया तो इसलिए बेरोजगार हैं, क्योंकि उनका काम करने को दिल नहीं करता, कुछ समय खुद के साथ बिताने का, अपना प्लान सोचने का, अपनी चीजों को करने का दिल करता ही नहीं और करेंगे नही  कैसे, उनके हाथों में तो फ़ोन है, गेम है, उन्हें लोगों की पिक्चर पर कमेंट करना है, लोगों को रिक्वेस्ट भेजनी है, और फालतू की चीजों में दिन बिताना है |

आपको पता है, लाइफ में आज तक जीतने भी सक्सेसफुल लोग रहे हैं, उन सबमें एक बात सामान थी, की वो जब कुछ करते थे, तो उसमें पूरी तरह डूब जाते थे, उन्हें पसंद नहीं आता था, कि फालतू की चीजों पर समय बर्बाद किया जाए, ऐसी चीज़ जो उन्हें कुछ कमाकर देगी नहीं, जो बस उनका टाइम ले रही है, और आपने तो सुना होगा की “समय ही पैसा है” पैसा तो वापस आ सकता है, मगर समय सबसे कीमती है, ये दोबारा वापस नहीं आएगा, तो थोड़ा सोंचो, अपने आप को कुछ समय दो, विचार करो, कि किस तरह लाइफ बिताना है, यह थी कुछ बातें, जो आपकी सोंच को बदलने मैं आपकी मदद करेगी |

धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *